Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

Forget AI; our RailFans are endowed with NI - Natural Intelligence

Full Site Search
  Full Site Search  
Just PNR - Post PNRs, Predict PNRs, Stats, ...
 
Mon Jul 4 09:02:27 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Advanced Search
Page#    461814 news entries  next>>
Today (08:45) Opening of Whitefield line likely to benefit 3 lakh commuters (www.thehindu.com)
Metro
BMRC/Bangalore Metro
0 Followers
247 views

News Entry# 491270  Blog Entry# 5400409   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
Once the Baiyappanahalli–Whitefield line opens for commercial operations, Namma Metro services will receive an additional ridership of 2.5 lakh to 3 lakh, it is estimated.

Anjum Parwez, Managing Director, Bangalore Metro Rail Corporation Ltd. (BMRCL), told The Hindu that patronage for the services will significantly rise once the Whitefield line becomes operational as the line will benefit thousands of employees working in the IT corridor.
...
more...

“To expedite the pending works, we have shifted our human resources on this line. Works on depot at Kadugodi is going at full swing and all the critical components required for operations of train services will be completed as early as possible. We are targeting for the opening of the line by year-end,” the official said.

BMRCL also requires a number of new coaches to run trains on the line. Mr. Parvez said the trial run on the extended Purple Line will start in September and by the end of the year, the line will be opened to the public.

He added that to facilitate opening of the line, the Baiyappanahalli–Whitefield line is part of ongoing Phase II project of Namma Metro. The 15-km line has 13 metro stations and a depot at Kadugodi spread over 44 acres. The metro stations on the corridor include K.R. Puram, Hoodi junction, Kadugodi, and Whitefield.

Motorists using Whitefield Road and enduring traffic snarls for years, during the construction of the metro elevated corridor, may soon heave a sigh of relief. The construction of the works started in 2016 and has missed multiple deadlines.

The hurdles that delayed opening of the line including changes in the metro alignment near Tin Factory area, delay in acquisition of land required for the project, including Kadugodi depot, pandemic, and others.

After the Russia-Ukraine war, the construction works were affected by shortage of high-grade steel in the domestic market. Mr. Parwez said that the shortage impacted the works for over a month, but now the contractors are getting the required supply.

Once the extended Purple Line becomes operational in the eastern side of the city, the people can travel from Kengeri to Whitefield. In August, BMRCL had opened the extended Purple Line from Mysuru Road station to Kengeri.

The official said that after the Whitefield line, the Yellow Line from R.V. Road to Bommasandra line will be opened to the public by mid-next year.
Today (08:42) Trains cancelled, public spend a bomb to travel in Bengaluru (www.newindianexpress.com)
Commentary/Human Interest
SWR/South Western
0 Followers
324 views

News Entry# 491269  Blog Entry# 5400404   
  Past Edits
Jul 04 2022 (08:42)
Station Tag: KSR Bengaluru City Junction (Bangalore)/SBC added by karbang/50057

Jul 04 2022 (08:42)
Station Tag: Hosur/HSRA added by karbang/50057
BENGALURU: Non-restoration of a train pair running between Yesvantpur and Hosur during peak morning and evening hours has hit commuters very hard.
Pre-COVID, they served as the commuting lifeline for software professionals, garment workers and medical professionals whose offices were located near stations enroute. With normalcy almost returning to the city in all spheres, the public is desperate for the trains to be back on tracks. 
Bowing to repeated requests from train users, Bengaluru Division is positively considering their re-introduction. A section of affected commuters met Divisional Railway Manager (DRM) Shyam Singh on
...
more...
Saturday to highlight their daily woes.
The Diesel Electric Multiple Unit from Yesvantpur to Hosur (Train No. 76523) and its pairing train from Hosur to Yesvantpur (Train No. 76524) would be jampacked before the pandemic. A MEMU train (Train No. 06262) introduced in April in their place from Hosur (only in the return direction) was abruptly cancelled from June 20.
The DEMU route ran thus: Hosur-Anekal-Heelalige-Carmelaram-Bellandur-Banaswadi-Hebbal-Lottigehalli-Yesvantpur.
A memorandum submitted to the DRM on June 24 said, "The trains were very useful for people living in Vidyaranyapura, Hebbal, Sahakarnagar, RT Nagar, Yelahanka, Banaswadi and work in Electronics City, Attibele, Bellandur, Bommasandra and Anekal."
Commuter Narendranath HS said, "Due to cancellation of these trains, the entire transport system which used to exist pre-COVID has been destroyed." Sanjeev, a regular commuter, said, "I personally spend Rs 700 per day to commute to work by car, and Attibele gate toll payment is calculated. It was Rs 10 one-way by train."
Jyoti Gowda, project coordinator at Wipro, says, "I spend 2.5 hrs on road at present, using buses or autos to reach office, and incur six times the expense. I used to reach Lottigehalli station by bike, take the train to Karmelaram and a bus to office. It cost me Rs 20, including train and bus earlier. The time saved was huge as the train just took 45 minutes."
Dr Rangarajan, who regularly used the train to reach Narayana Hrudyalaya, said, "The trains definitely need to be introduced. I know of many medical staff who relied heavily on it."
Additional Divisional Railway Manager, Administration, Bengaluru Division, Kusuma Prasad told The New Indian Express, "There are alternative trains the public can use. But if there is a strong demand for re-introduction of this train pair, we will consider starting them. There is congestion at Yesvantpur station and the trains had to make way for Express trains. We can consider shifting a pair of trains to Sir M Visvesvaraya Terminal to accommodate the Hosur trains."
Special Train: यात्रियों की सुविधा के लिए कुल 214 स्पेशल ट्रेनें गणपति महोत्सव के मौके पर चलाई जाएगी. यह ट्रेनें जुलाई के अंतिम सप्ताह से लेकर अगस्त के महीने तक चलेंगी.

Ganpati Mahotsav Special Train: गणपति महोत्सव (Ganpati Special Trains) महाराष्ट्र (Maharashtra) के सबसे बड़े त्योहारों में से एक है. इस महोत्सव के खास मौके पर लोग अपने घरों को जाते हैं. ऐसे लोगों की सुविधा के लिए रेलवे ने गणपत‍ि उत्‍सव स्पेशल ट्रेनें (Ganpati Utsav Special Train) शुरू करने का निर्णय लिया है. इससे यात्रियों को त्योहार के इस मौसम में
...
more...
आराम मिलेगा. बता दें कि इंडियन रेलवे अपने यात्रियों की सुविधा का पूरा ध्यान रखता है. खास त्योहार जैसे गणपति महोत्सव, होली, दिवाली, दुर्गा पूजा आदि बड़े त्योहारों पर स्पेशल ट्रेनें चलाई जाती है.

बता दें कि यात्रियों की सुविधा के लिए कुल 214 स्पेशल ट्रेनें गणपति महोत्सव के मौके पर चलाई जाएगी. यह ट्रेनें जुलाई के अंतिम सप्ताह से लेकर अगस्त के महीने तक चलाई जाएगी. हम आपको इन ट्रेनों के डिटेल्स के बारे में बताते हैं.

रेल मंत्री ने ट्वीट कर दी जानकारीरेल मंत्री अश्विनी वैष्णव (Railway Minister Ashwini Vaishnaw) ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल लोगों को ट्वीट कर जानकारी दी है कि गणपति महोत्सव के खास मौके पर रेलवे लोगों की सुविधा का ध्यान रखते हुए स्पेशल ट्रेनें (Special Train) चलाने की प्लानिंग कर रहा है. रेलवे द्वारा कुल 214 ट्रेन इस खास मौके पर चलाई जाएगी. इससे यात्रियों को ट्रैवल करने में सुविधा होगी और लोग आसानी से त्योहार के मौके पर अपने घरों को जा सकेंगे.

Ganpati Bappa Morya🙏

शिड्यूल जल्द होगा जारीरेलवे ने फिलहाल 214 गणपति महोत्सव ट्रेनें चलाने का निर्णय लिया है लेकिन, अब तक इन ट्रेनों के शिड्यूल यानी टाइम टेबल (Time Table) को जारी नहीं किया है. जल्द ही रेलवे इन ट्रेनों के शिड्यूल को जारी करेगा और फिर इन ट्रेनों का रिजर्वेशन (Reservation) शुरू हो जाएगा. यह ट्रेनें जुलाई की आखिर से लेकर अगस्त तक ऑपरेट करेंगी.
Railway Rules: अगर किसी यात्री की ट्रेन गलती से छूट गई है तो ऐसी स्थिति में अगले दो स्टेशन तक उसके आने के लिए इंतजार किया जाता है और उसके बाद इस सीट को वेटिंग टिकट वाले व्यक्ति को अलॉट कर दी जाती है.

Rules of Railway: भारतीय रेलवे (Indian Railway) दुनिया के सबसे बड़े रेल नेटवर्क्स (Railway Network) में से एक है. हर दिन करोड़ों यात्री रेलवे की सेवाओं का लाभ उठाते हैं. ऐसे में रेलवे यात्रियों की सुविधा के लिए कई अलग-अलग तरह के रूल्स (Railway Rules) बनाता है. अगर
...
more...
आप भी ट्रेन में अक्सर सफर करते हैं तो यह खबर आपके काम की है. कई बार हमको ट्रेन में सफर करते वक्त उसके कुछ रूल्स के बारे में पता नहीं होता है. इस कारण हमें और हमारे सह यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. आज हम आपको रेलवे से जुड़े एक अहम सवाल का जवाब देने वाले हैं.

अगर कोई यात्री ने अपने साथ किसी और का टिकट कटा हो और बाद में वह एक टिकट को कैंसिल (Ticket Train Cancel)  कराए बिना ही ट्रेन में चढ़ जाता है तो ऐसी स्थिति में क्या TTE उसका टिकट बेच सकता है या नहीं. अगर आपके मन में भी यह सवाल आता है तो हम आपको इसके बारे में बताने वाले हैं-

एक टिकट में यात्री के न आने पर सीट का क्या होगा?अगर आप एक साथ दो या उससे अधिक व्यक्ति ट्रेन में ट्रेवल करने वाले हैं लेकिन, किसी एक व्यक्ति का जाना कैंसिल हो जाता है तो ऐसी परिस्थिति में आप उस व्यक्ति के टिकट को कैंसिल करवा दे. अगर आपके पास इसे रद्द करने का समय नहीं है और आप ट्रेन में चढ़ गए हैं तो ऐसी स्थिति में भी TTE उस सीट की टिकट को किसी को बेच नहीं सकता है. ऐसे में सबसे पहले टीटीई यह देखता है कि अलगे दो स्टेशन पर उस सीट के लिए कोई आता है या नहीं. उसके बाद रेलवे के नियमों के अनुसार TTE उस सीट को किसी RAC (Reservation Against Cancellation) या वेटिंग लिस्ट (Waiting List) के यात्री के अलॉट कर सकता है.

ट्रेन छूटने पर कैसे मिलेगा रिफंड?अगर किसी यात्री की ट्रेन गलती से छूट गई है तो ऐसी स्थिति में अगले दो स्टेशन तक उसके आने के लिए इंतजार क्या जाता है और उसके बाद इस सीट को वेटिंग टिकट वाले व्यक्ति को अलॉट कर दी जाती है. इसके साथ ही जिस यात्री की ट्रेन छूट गई है वह Ticket Deposit Receipt फाइल करके अपना रिफंड प्राप्त कर सकते हैं. आपको बेस फेयर का 50% तक रिफंड के रूप में मिल जाएगा.
पीएम मोदी देवघर सहित संताल परगना को देंगे सौगात. इस दौरान देवघर से बनारस के लिए नयी ट्रेन की घोषणा करेंगे. करीब एक हजार करोड़ रुपये खर्च कर गांधीनगर और बनारस स्टेशन के तर्ज पर जसीडीह जंक्शन को वर्...

Jharkhand News: पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi) आगामी 12 जुलाई को बाबा नगरी सहित संताल परगना को हजारों करोड़ की योजना का सौगात देने वाले हैं. देवघर एयरपोर्ट के उद्घाटन समारोह के दौरान पीएम मोदी अन्य योजनाओं के साथ-साथ देवघर से बनारस के लिए नयी ट्रेन की घोषणा कर सकते हैं. वहीं, जसीडीह
...
more...
जंक्शन को गांधीनगर और बनारस रेलवे स्टेशन की तर्ज पर वर्ल्ड क्लास स्टेशन बनाया जाएगा.
करीब एक हजार करोड़ रुपये खर्च करने की योजना
बताया गया कि गांधीनगर और बनारस स्टेशन के तर्ज पर जसीडीह स्टेशन को विकसित किया जायेगा. इस प्रोजेक्ट में जसीडीह स्टेशन के डेवलपमेंट में करीब एक हजार करोड़ रुपये खर्च करने की योजना है. इस प्रोजेक्ट में यात्री सुविधा में अभूतपूूर्व वृद्धि की जायेगी.

यात्रियों को एयरपोर्ट की सुविधा का एहसास यह स्टेशन करायेगी. वहीं, मधुपुर स्टेशन में पांच करोड़ की लागत से वाशिंग पिट का निर्माण करवाया जायेगा. इस योजना का शिलान्यास भी पीएम मोदी के हाथों होना है. इससे कोच की सफाई और धोने आदि का काम अब मधुपुर में ही हो सकेगा.

गोड्डा स्टेशन में कोचिंग यार्ड और जसीडीह रेल बाइपास रेलवे रूट निर्माण

पीएम मोदी गोड्डा स्टेशन में कोचिंग यार्ड का भी शिलान्यास करेंगे. 50 करोड़ की लागत इस कोचिंग यार्ड के निर्माण में आएगी. इसके लिए राशि रेलवे ने स्वीकृत कर दी है. इससे कोच का मेंटेनेंस गोड्डा में ही सकेगा. वहीं, देवघर स्टेशन से सीधे रोहिणी होते हुए आसनसोल मेन लाइन से जोड़ने के लिए एक बाइपास रेलवे रूट निर्माण की आधारशिला भी पीएम मोदी रखेंगे. इसका सर्वे कार्य चल रहा है. साथ ही जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया भी चल रही है.

प्रसाद योजना के भवन का करेंगे उद्घाटन

प्रसाद योजना से श्रद्धालुओं के लिए कांवरिया पथ दुम्मा से खिजुरिया के बीच सात एकड़ भू-खंड में बने स्पिरिचुअल हॉल, कम्यूनिटी टॉयलेट (50-50 यूनिट महिला एवं पुरुष), फूड स्टॉल, दुकान, फर्स्ट एड की तैयार योजना के अलावा शिवगंगा सौंदर्यीकरण योजना आदि का उद्घाटन पीएम करेंगे.

हंसडीहा-महगामा फोरलेन सड़क

अति महत्वपूर्ण हंसडीहा-महगामा फोरलेन सड़क का शिलान्यास पीएम मोदी करेंगे. केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने NH-133 के महागामा- हंसडीहा खंड के 4 लेन सड़क के निर्माण की मंजूरी दी है. 955 करोड़ की लागत से इस सड़क का निर्माण होना है. इसका टेंडर भी फाइनल हो चुका है. यह सड़क 51.8 किमी लंबी होगी.
Page#    461814 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy