Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

NCR - maar bhi, raftaar bhi - Harshit Sharma

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Mon Jul 4 08:22:57 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Advanced Search
Page#    461812 news entries  next>>
Special Train: यात्रियों की सुविधा के लिए कुल 214 स्पेशल ट्रेनें गणपति महोत्सव के मौके पर चलाई जाएगी. यह ट्रेनें जुलाई के अंतिम सप्ताह से लेकर अगस्त के महीने तक चलेंगी.

Ganpati Mahotsav Special Train: गणपति महोत्सव (Ganpati Special Trains) महाराष्ट्र (Maharashtra) के सबसे बड़े त्योहारों में से एक है. इस महोत्सव के खास मौके पर लोग अपने घरों को जाते हैं. ऐसे लोगों की सुविधा के लिए रेलवे ने गणपत‍ि उत्‍सव स्पेशल ट्रेनें (Ganpati Utsav Special Train) शुरू करने का निर्णय लिया है. इससे यात्रियों को त्योहार के इस मौसम में
...
more...
आराम मिलेगा. बता दें कि इंडियन रेलवे अपने यात्रियों की सुविधा का पूरा ध्यान रखता है. खास त्योहार जैसे गणपति महोत्सव, होली, दिवाली, दुर्गा पूजा आदि बड़े त्योहारों पर स्पेशल ट्रेनें चलाई जाती है.

बता दें कि यात्रियों की सुविधा के लिए कुल 214 स्पेशल ट्रेनें गणपति महोत्सव के मौके पर चलाई जाएगी. यह ट्रेनें जुलाई के अंतिम सप्ताह से लेकर अगस्त के महीने तक चलाई जाएगी. हम आपको इन ट्रेनों के डिटेल्स के बारे में बताते हैं.

रेल मंत्री ने ट्वीट कर दी जानकारीरेल मंत्री अश्विनी वैष्णव (Railway Minister Ashwini Vaishnaw) ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल लोगों को ट्वीट कर जानकारी दी है कि गणपति महोत्सव के खास मौके पर रेलवे लोगों की सुविधा का ध्यान रखते हुए स्पेशल ट्रेनें (Special Train) चलाने की प्लानिंग कर रहा है. रेलवे द्वारा कुल 214 ट्रेन इस खास मौके पर चलाई जाएगी. इससे यात्रियों को ट्रैवल करने में सुविधा होगी और लोग आसानी से त्योहार के मौके पर अपने घरों को जा सकेंगे.

Ganpati Bappa Morya🙏

शिड्यूल जल्द होगा जारीरेलवे ने फिलहाल 214 गणपति महोत्सव ट्रेनें चलाने का निर्णय लिया है लेकिन, अब तक इन ट्रेनों के शिड्यूल यानी टाइम टेबल (Time Table) को जारी नहीं किया है. जल्द ही रेलवे इन ट्रेनों के शिड्यूल को जारी करेगा और फिर इन ट्रेनों का रिजर्वेशन (Reservation) शुरू हो जाएगा. यह ट्रेनें जुलाई की आखिर से लेकर अगस्त तक ऑपरेट करेंगी.
Railway Rules: अगर किसी यात्री की ट्रेन गलती से छूट गई है तो ऐसी स्थिति में अगले दो स्टेशन तक उसके आने के लिए इंतजार किया जाता है और उसके बाद इस सीट को वेटिंग टिकट वाले व्यक्ति को अलॉट कर दी जाती है.

Rules of Railway: भारतीय रेलवे (Indian Railway) दुनिया के सबसे बड़े रेल नेटवर्क्स (Railway Network) में से एक है. हर दिन करोड़ों यात्री रेलवे की सेवाओं का लाभ उठाते हैं. ऐसे में रेलवे यात्रियों की सुविधा के लिए कई अलग-अलग तरह के रूल्स (Railway Rules) बनाता है. अगर
...
more...
आप भी ट्रेन में अक्सर सफर करते हैं तो यह खबर आपके काम की है. कई बार हमको ट्रेन में सफर करते वक्त उसके कुछ रूल्स के बारे में पता नहीं होता है. इस कारण हमें और हमारे सह यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. आज हम आपको रेलवे से जुड़े एक अहम सवाल का जवाब देने वाले हैं.

अगर कोई यात्री ने अपने साथ किसी और का टिकट कटा हो और बाद में वह एक टिकट को कैंसिल (Ticket Train Cancel)  कराए बिना ही ट्रेन में चढ़ जाता है तो ऐसी स्थिति में क्या TTE उसका टिकट बेच सकता है या नहीं. अगर आपके मन में भी यह सवाल आता है तो हम आपको इसके बारे में बताने वाले हैं-

एक टिकट में यात्री के न आने पर सीट का क्या होगा?अगर आप एक साथ दो या उससे अधिक व्यक्ति ट्रेन में ट्रेवल करने वाले हैं लेकिन, किसी एक व्यक्ति का जाना कैंसिल हो जाता है तो ऐसी परिस्थिति में आप उस व्यक्ति के टिकट को कैंसिल करवा दे. अगर आपके पास इसे रद्द करने का समय नहीं है और आप ट्रेन में चढ़ गए हैं तो ऐसी स्थिति में भी TTE उस सीट की टिकट को किसी को बेच नहीं सकता है. ऐसे में सबसे पहले टीटीई यह देखता है कि अलगे दो स्टेशन पर उस सीट के लिए कोई आता है या नहीं. उसके बाद रेलवे के नियमों के अनुसार TTE उस सीट को किसी RAC (Reservation Against Cancellation) या वेटिंग लिस्ट (Waiting List) के यात्री के अलॉट कर सकता है.

ट्रेन छूटने पर कैसे मिलेगा रिफंड?अगर किसी यात्री की ट्रेन गलती से छूट गई है तो ऐसी स्थिति में अगले दो स्टेशन तक उसके आने के लिए इंतजार क्या जाता है और उसके बाद इस सीट को वेटिंग टिकट वाले व्यक्ति को अलॉट कर दी जाती है. इसके साथ ही जिस यात्री की ट्रेन छूट गई है वह Ticket Deposit Receipt फाइल करके अपना रिफंड प्राप्त कर सकते हैं. आपको बेस फेयर का 50% तक रिफंड के रूप में मिल जाएगा.
पीएम मोदी देवघर सहित संताल परगना को देंगे सौगात. इस दौरान देवघर से बनारस के लिए नयी ट्रेन की घोषणा करेंगे. करीब एक हजार करोड़ रुपये खर्च कर गांधीनगर और बनारस स्टेशन के तर्ज पर जसीडीह जंक्शन को वर्...

Jharkhand News: पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi) आगामी 12 जुलाई को बाबा नगरी सहित संताल परगना को हजारों करोड़ की योजना का सौगात देने वाले हैं. देवघर एयरपोर्ट के उद्घाटन समारोह के दौरान पीएम मोदी अन्य योजनाओं के साथ-साथ देवघर से बनारस के लिए नयी ट्रेन की घोषणा कर सकते हैं. वहीं, जसीडीह
...
more...
जंक्शन को गांधीनगर और बनारस रेलवे स्टेशन की तर्ज पर वर्ल्ड क्लास स्टेशन बनाया जाएगा.
करीब एक हजार करोड़ रुपये खर्च करने की योजना
बताया गया कि गांधीनगर और बनारस स्टेशन के तर्ज पर जसीडीह स्टेशन को विकसित किया जायेगा. इस प्रोजेक्ट में जसीडीह स्टेशन के डेवलपमेंट में करीब एक हजार करोड़ रुपये खर्च करने की योजना है. इस प्रोजेक्ट में यात्री सुविधा में अभूतपूूर्व वृद्धि की जायेगी.

यात्रियों को एयरपोर्ट की सुविधा का एहसास यह स्टेशन करायेगी. वहीं, मधुपुर स्टेशन में पांच करोड़ की लागत से वाशिंग पिट का निर्माण करवाया जायेगा. इस योजना का शिलान्यास भी पीएम मोदी के हाथों होना है. इससे कोच की सफाई और धोने आदि का काम अब मधुपुर में ही हो सकेगा.

गोड्डा स्टेशन में कोचिंग यार्ड और जसीडीह रेल बाइपास रेलवे रूट निर्माण

पीएम मोदी गोड्डा स्टेशन में कोचिंग यार्ड का भी शिलान्यास करेंगे. 50 करोड़ की लागत इस कोचिंग यार्ड के निर्माण में आएगी. इसके लिए राशि रेलवे ने स्वीकृत कर दी है. इससे कोच का मेंटेनेंस गोड्डा में ही सकेगा. वहीं, देवघर स्टेशन से सीधे रोहिणी होते हुए आसनसोल मेन लाइन से जोड़ने के लिए एक बाइपास रेलवे रूट निर्माण की आधारशिला भी पीएम मोदी रखेंगे. इसका सर्वे कार्य चल रहा है. साथ ही जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया भी चल रही है.

प्रसाद योजना के भवन का करेंगे उद्घाटन

प्रसाद योजना से श्रद्धालुओं के लिए कांवरिया पथ दुम्मा से खिजुरिया के बीच सात एकड़ भू-खंड में बने स्पिरिचुअल हॉल, कम्यूनिटी टॉयलेट (50-50 यूनिट महिला एवं पुरुष), फूड स्टॉल, दुकान, फर्स्ट एड की तैयार योजना के अलावा शिवगंगा सौंदर्यीकरण योजना आदि का उद्घाटन पीएम करेंगे.

हंसडीहा-महगामा फोरलेन सड़क

अति महत्वपूर्ण हंसडीहा-महगामा फोरलेन सड़क का शिलान्यास पीएम मोदी करेंगे. केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने NH-133 के महागामा- हंसडीहा खंड के 4 लेन सड़क के निर्माण की मंजूरी दी है. 955 करोड़ की लागत से इस सड़क का निर्माण होना है. इसका टेंडर भी फाइनल हो चुका है. यह सड़क 51.8 किमी लंबी होगी.
Today (07:06) भारतीय रेल : डबल होगा जमालपुर-खगडिय़ा रेलखंड, रेलवे ने दी हरी झंडी, 28 लाख मिला सर्वे के लिए (www.jagran.com)
0 Followers
1458 views

News Entry# 491257  Blog Entry# 5400344   
  Past Edits
Jul 04 2022 (07:08)
Station Tag: Begusarai/BGS added by GoCoronaGo/2042191

Jul 04 2022 (07:08)
Station Tag: Barauni Junction/BJU added by GoCoronaGo/2042191

Jul 04 2022 (07:08)
Station Tag: Bhagalpur Junction/BGP added by GoCoronaGo/2042191

Jul 04 2022 (07:08)
Station Tag: Khagaria Junction/KGG added by GoCoronaGo/2042191

Jul 04 2022 (07:08)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by GoCoronaGo/2042191
संवाद सूत्र, जमालपुर (मुंगेर)। भारतीय रेल : जमालपुर-खगडिय़ा सिंगल रेल लाइन को डबल करने की तैयारी में रेलवे बोर्ड जुट गया है। रेलवे ने लगभग 14 किमी लंबी रेल लाइन निर्माण के लिए हरी झंडी दे दी है। दोहरीकरण के लिए सर्वे का काम भी जल्द शुरू होगा। सर्वे के लिए 28 लाख रुपये रेलवे ने आवंटित कर दिया गया है। जमालपुर-खगडिय़ा रेलखंड के बीच में गंगा नदी पर श्रीकृष्ण सेतु बना हुआ है। सेतु को भी शामिल किया गया है। रेलवे के अनुसार जमालपुर से मुंगेर और खगडिय़ा दिशा से उमेश नगर तक लाइन को डबल किया जाएगा। दोहरीकरण होने के बाद उमेश नगर के पास बरौनी-कटिहार रेल लाइन से सीधा कनेक्ट होगा। ट्रेनों की संख्या भी बढ़ेगी। रेलवे बोर्ड ने इस संबंध में निर्माण विभाग को पत्र भेजा है।
रेलवे
...
more...
का बेहतर प्लानिंग, बढ़ेगी कनेक्टिविटी
जमालपुर-खगडिय़ा रेल सेक्शन दोहरीकरण होने से न सिर्फ कनेक्टिविटी बढ़ेगी बल्कि रेलवे को बेहतर विकल्प मिलेगा। अभी जमालपुर-खगडिय़ा मार्ग पर मालगाडिय़ों का परिचालन ज्यादा होता है। ङ्क्षसगल लाइन की वजह से ट्रेनों और मालगाडिय़ों को स्टेशनों पर रोक दिया जाता है। डबल लाइन बनने से इससे निजात मिलेगी। रेलवे बेहतर प्लाङ्क्षनग के तहत इस रेल सेक्शन को दोहरीकरण करने की कवायद शुरू की गई है।

भविष्य का सबसे कमाऊ रेलखंड होगा
जमालपुर-खगडिय़ा रेल खंड के रास्ते कोसी-सीमांचल, उत्तर बिहार, पश्चिम बंगाल और पूर्वी राज्यों की दूरी कम है। ऐसे में इस रेलखंड को डेवलप करने के लिए रेलवे कवायद कर रही है। रेलवे यह मानकर चल रही है कि आने वाले वर्षों में यह रेलखंड बेहतर कनेक्टिविटी के साथ राजस्व देने वाला रेलखंड बनेगा। लाइन दोहरीकरण के बाद कई दिशाओं के लिए मेल और एक्सप्रेस जैसे ट्रेनों की संख्या भी बढ़ सकती है।
Copyright © 2022 Jagran Prakashan Limited.

1 Posts

626 views
Today (08:02)
Rajeshkrsbokaro
Rajeshkrsbokaro~   1501 blog posts
Re# 5400344-2            Tags   Past Edits
बेहतर सोच
Today (07:40) Good News: लोहरदगा में रुकेगी राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन... बढ़ाई जा रही प्लेटफार्म की लंबाई... रांची रेल मंडल की तैयारी शुरू (m.jagran.com)
IR Affairs
SER/South Eastern
0 Followers
635 views

News Entry# 491260  Blog Entry# 5400354   
  Past Edits
Jul 04 2022 (07:40)
Station Tag: Lohardaga/LAD added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 04 2022 (07:40)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 04 2022 (07:40)
Station Tag: Ranchi Junction/RNC added by Adittyaa Sharma/1421836
Indian Railways रांची नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन अब लोहरदगा स्टेशन पर रुकेगी। रांची रेल मंडल इसकी कवायद में जुट गया है। अभी तारीख की घोषणा नहीं की गई है। लंबे समय से यहां ट्रेन ठहराव की मांग की जा रही थी। ट्रेन ठहराव से कई जिलों को लाभ होगा।
रांची, जागरण संवाददाता। रांची-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस के लोहरदगा स्टेशन पर ठहराव की कवायद शुरू हो गई है। रांची रेल मंडल इस दिशा में तैयारी शुरू कर दी है। प्लेटफार्म की लंबाई पर विशेष ध्यान रखा जा रहा है। वर्तमान में लोहरदगा स्टेशन पर सिर्फ 16 कोच वाली ट्रेनों के ठहराव की व्यवस्था है, जिससे यात्रियों को उतरने में परेशानी नहीं होती है। जबकि राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन में कुल 22 कोच है,
...
more...
इसलिए प्लेटफार्म की लंबाई बढ़ाकर इसके अनुरूप करने की कोशिश जारी है। जल्द ही प्लेटफार्म की लंबाई बढ़ा दी जाएगी।
बन रहा ओवरब्रिज, ट्रैक क्रास नहीं करना होगा
जानकारी के अनुसार, लोहरदगा रेलवे स्टेशन पर ओवरब्रिज की सुविधा भी उपलब्ध कराई जा रही है। इससे यात्रियों को एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर जाने में परेशानी नहीं होगी। वर्तमान में यात्रियों को ट्रैक क्रास करके जाना पड़ता है। ऐसे में यात्रियों की जान का हमेशा खतरा बना रहता है। यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ओवरब्रिज का निर्माण तेजी से चल रहा है। स्थानीय लोगों की मानें तो राजधानी एक्सप्रेस के ठहराव से लोहरदगा समेत कई अन्य जिलों के यात्रियों को भी सुविधा होगी। उन्हें ट्रेन पकड़ने के लिए रांची रेलवे स्टेशन नहीं जाना पड़ेगा। अपने नजदीकी लोहरदगा स्टेशन पर ही राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन पकड़ सकेंगे।
पेयजल और यात्री शेड की बढ़ाई जा रही सुविधा
रेलवे के अनुसार प्लेटफार्म की लंबाई बढ़ाई जा रही है। एक शेड लंबाई बढ़ाने की प्रक्रिया चल रही है। बरसात और गर्मियों के मौसम में यात्रियों को असुविधा होती थी। ऐसे में शेड की सुविधा होने से यात्रियों को परेशानी नहीं होगी। वर्तमान में लोहरदगा में आईलैंड प्लेटफार्म का निर्माण किया जा रहा है, जिसमें प्लेटफार्म नंबर दो और तीन की सुविधा होगी। यहां भी शेड की व्यवस्था की जाएगी। साथ ही पेयजल की भी व्यवस्था प्लेटफार्म पर की जाएगी।राजधानी के अलावा चलेंगी कई अन्य ट्रेनें भी
रांची रेल मंडल के डीआरएम प्रदीप गुप्ता ने दैनिक जागरण से बातचीत में कहा कि रांची-लोहरदगा रूट महत्वपूर्ण रूट है। भविष्य में राजधानी एक्सप्रेस सहित अन्य कई महत्वपूर्ण ट्रेनें चलेंगी। इसलिए लोहरदगा स्टेशन को डेवलप करने की प्रक्रिया चल रही है। एक ही प्लेटफार्म होने से यात्रियों को परेशानी होती थी। प्लेटफार्म की लंबाई और संख्या बढ़ाई जा रही है। इससे यात्रियों को सुविधा होगी।
Page#    461812 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy